आदिवासी युवा पंचायत-2017 का ऐतिहासिक आजोजन संपन्न

जयस समाज में नेतृत्व तैयार करने का काम कर रहा है- श्री विक्रम अछालिया

* पर्यावरण को बचाने का सन्देश देते हुए अथितियों को जयस युवाओ द्वारा पोधे भेंट किये गए

* कैमरामेन गजननंद मुजाल्दे ने वीडियो शूटिंग एवं फोटोग्राफी का काम निशुल्क किया

धार (संजय मंडलोई) । जय आदिवासी युवा शक्ति (जयस) आज चारो तरफ अपना जलवा बिखेर रहा है । आज गांव से लेकर शहर तक जयस युवाओ का ही बोलबाला है ।सोशल साइट्स पर जयस युवा धमाल मचा रहे है । लोग facebook, whatsapp, Twitter, telegram जेसी महत्वपूर्ण सोशल साइट्स को मनोरंजन के तौर पर चलाते है । लेकिन जयस इस सोशल साइट्स का उपयोग समाज सेवा के लिये लिये कर रहा है, इसी कारण जयस आज युवाओ के इस अहम योगदान से बुलंदियों को छु रहा है । आज हर युवा जयस के माध्यम से निडर होकर अपने समाज के भोले, गरीब लोगो की आवाज़ दबंगता के साथ उठा रहा है । जयस आज समाज में नेतृत्व करने वाले युवाओ को तैयार करने का काम कर रहा है । उक्त विचार जयस के राष्ट्रिय संस्थापक श्री विक्रम अछालिया ने मनावर तहसील के ग्राम पेटलावद में आदिवासी युवा पंचायत-2017 के कार्यक्रम में युवाओ को संबोधित करते हुए कहे । श्री अछालिया ने बताया की आदिवासी समाज प्रकृति को पूजने व मानने वाला समाज बताया । उन्होंने आदिवासी समाज को संविधान में दिए गये अधिकारो के बारे में युवाओ को जानकारी दी । कार्यक्रम में सेंधवा से पहुंचे अनिल रावत ने सभा को संबोधित करते हुए कहा की जयस आज समाज की उम्मीद बन चूका है । आज जयस युवा समाज के निचले तबके के लोगो तक पहुँच कर हर प्रकार की मदद करने काम कर रहे है । उन्होंने युवाओ को रक्तदान करने को लेकर भी प्रेरित किया । नारी शक्ति सिमा वास्केल ने महिलाओ के बारे में कहा की अब हमे समाज के खातिर घर से निकलना होगा । आदिवासी समाज की नारी शक्ति किसी से कम नही है । अब हमे अपनी ताकत दिखाने का समय आ गया है । बड़वानी के दिनेश खरते ने आदिवासी भाषा में बोलते हुए कहा अपना समाज अपनी रीती रिवाज, संस्कृति, पहनावा भूलता जा रहा है । हमारा समाज मानसिक रूप से गुलामी के जंजीर में जकड़ा हुआ है समाज को इस बीमारी से बाहर निकलना पढे-लिखे युवाओ की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है । महेश भाभर ने संविधान की 5वीं 6टी अनुसूची एवं पैसा एक्ट कानून के बारे में जानकारी दी। साफ्टवेयर इंजिनियर गौरव चौहान कहा किअब जयस युवा रुकने वाला नही है । अपने समाज के हक़ और अधिकारो की लड़ता रहेगा । मप्र जयस प्रवक्ता महेन्द्र कन्नौज ने कहा की ना लोकसभा ना विधानसभा सबसे पहले ग्रामसभा आती है इसलिये हमे गांव की ग्राम सभा को मजबूत करना होगा । चेतन अ. पटेल ने कहा की हम 21 वी सदी युवा समाज में बदलाव लाकर ही रहेंगे । किशनलाल बड़ोले, पूर्व गृह मंत्री जगदीश मुवेल, गोपाल कन्नौज, सूर्या डोड़वा, सुनील रावत, करण डावर, आज लालू बर्मन आदि वक्ताओं ने भी अपनी बात रखी । उक्त कार्यक्रम की शुरुआत गांव की काकड़ की पूजा कर की गई, एवं महापुरुषो की फोटो की भी पूजा अर्चना की गई । वहीँ कार्यक्रम समाप्ति पश्चात अथितियों को पौधे देकर सम्मानित किया गया । इस कार्यक्रम को सफल बनाने के ग्राम पेटलवाद के लोगो ने काफी मेहनत की वही इस प्रोग्राम में जयस के समर्पित कार्यकर्ता गजानंद मुजाल्दे ने वीडियो शूटिंग एवं फोटो का काम भी अपने परिवार के साथ निशुल्क किया टेंट, साउंड, लाईट व्यवस्था भी गांव के लोगो द्वारा निशुल्क की गई थी । उक्त कार्यक्रम में धार, बड़वानी, खरगोन, इंदौर, आलीराजपुर, खंडवा सहित प्रदेशभर से लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए । वहीँ कार्यक्रम खासियत यह रही की गांव की महिलाये सुबह 9 बजे के कार्यक्रम समाप्ति तक बैठी रही । कार्यक्रम पश्चात् नाश्ते की व्यवस्था गांव वालो के सहयोग से करवाया गया । कार्यक्रम का सफल संचालन लोकेश मुझाल्दा, एवं राजू सोलंकी वही इस कार्यक्रम को कड़ी मेहनत से सफल बनाने वाले प्यारेलाल जर्मन ने आभार माना ।

धार