युवा मंत्र

MCI द्वारा आदिवासी बाहुल्य जिला बैतुल में मेडिटेक कैरियर इंस्टीट्यूट बैतूल के अनुभवी शिक्षकों द्वारा आज दिनांक 27/01/2017 को जिला बैतुल के विकासखण्ड चिचोली में शासकीय उत्कृष्ट विधालय,शासकीय उच्च.माध्य.

जरूरत है, लक्ष्य साधने की...

जरूरत है, लक्ष्य साधने की...

जरूरत है, लक्ष्य साधने की...

धार । 28 अगस्त को अजाक्स एवं अन्य सामाजिक संगठनो के नेतृत्व में जावरा (रतलाम) में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे जयस के प्रदेश प्रवक्ता महेन्द्र कन्नौज का जोरदार स्वागत किया गया ।

सत्ता स्वभाव से ही नरभक्षी होती है। उस पर बैठने वाले को खा जाती है। शुरुआत से ही जमीर कुतरना शुरू करती है। इसीलिए जब कोई सत्ता पर बैठता है तो आचरण का संतुलन खो बैठता है। सत्ता केवल राजनीतिक सत्ता नहीं होती, जिसके लिए नेता जीवन दांव पर लगा देते हैं। सत्ता परिवार में मुखिया की भी हो सकती है, किसी व्यवस्था में नेतृत्व की भी हो सकती है और एक सबसे बड़ी सत्ता है आपके अपने होने की। इसमें आपको अपनी इंद्रियों पर राज करना पड़ता है। यह आंतरिक सत्ता है परंतु इतना ध्यान रखें कि हर सत्ता नरभक्षी है। निज मन ही निज तन को खाए ऐसा कहा गया है। इसलिए मन से संचालित हमारी इंद्रियां हमें कुतर लेती हैं।